हैदराबाद : सभी आरोपियों के मारे जाने की खबर से पीड़िता का परिवार भी खुश, देखें साइट की PHOTOS

  • हैदराबाद पुलिस चार आरोपियों को उसी स्थान पर रिक्रिएशन के लिए ले जा रही थी, जहां आरोपियों ने भागने की कोशिश की इसी दौरान पुलिस के साथ मुठभेड़ हुई और चारों आरोपी ढेर हो गए.
  • हैदराबाद की महिला डॉक्टर के साथ इन आरोपियों ने हैदराबाद के जिस NH-44 पर हैवानियत की थी और बाद में जिंदा जलाकर शव को वहां डाल दिया था, पुलिस के साथ एनकाउंटर में वो वहीं मारे गए.
  • हैदराबाद की पुलिस इसी स्थान पर चारों आरोपियों को ले जा रही थी और उस दृश्य को रिक्रिएट कर रही थी. पुलिस के मुताबिक, तभी इन आरोपियों ने भागने की कोशिश की और पुलिस पर हमला कर दिया. इसी मुठभेड़ में चारों आरोपी मारे गए. ये मुठभेड़ शुक्रवार तड़के 3 बजे से 6 बजे के बीच हुई.
  • शुक्रवार सुबह जैसे ही एनकाउंटर की खबर आई तो महिला डॉक्टर के परिवार की प्रतिक्रिया भी आई. दिशा (बदला हुआ नाम) के पिता ने इस घटना को न्याय बताया और कहा कि उनकी बेटी की आत्मा को आज शांति मिलेगी. वहीं, दिशा की बहन ने भी कहा कि इस मामले में आज जाकर इंसाफ हुआ है. वहीं, दिशा के चाचा बोले कि इस घटना के बाद बलात्कारियों के मन में खौफ पैदा होगा.
  • हैदराबाद में हुए इस एनकाउंटर के बाद मानवाधिकार को लेकर सवाल भी खड़े हो रहे हैं. कई सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस मसले की जांच की मांग की है. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन्स के अनुसार, इस एनकाउंटर की मजिस्ट्रेट जांच होगी, जिसमें एनकाउंटर होने के सभी पहलुओं को तलाशा जाएगा. क्यों एनकाउंटर की जरूरत पड़ी, क्या गोली चलाना जरूरी था?
  • इसके अलावा केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से भी कहा गया है कि पुलिस कस्टडी में मौत को लेकर मानवाधिकार आयोग को जवाब देना होता है. अगर संसद में इसपर सवाल होता है तो केंद्रीय गृह मंत्रालय ही जवाब देगा.
  • शमशाबाद के डीसीपी प्रकाश रेड्डी ने बताया, साइबराबाद पुलिस आरोपियों को क्राइम सीन री-क्रिएट करने के लिए लाई थी, ताकि घटना से जुड़ी कड़ियों को जोड़ा जा सके. इसी दौरान आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीन लिए और पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी. पुलिस ने आत्मरक्षा में गोली चलाई, जिसमें आरोपियों की मौत हो गई.
  • एनकाउंटर में सभी आरोपियों के मारे जाने की खबर से पीड़िता का परिवार भी खुश है. पीड़िता के पिता ने कहा कि आज उनकी बेटी की आत्मा को शांति मिली होगी. उनका कहना है कि रेप का शिकार हुई बाकी बेटियों के आरोपियों को भी ऐसी सज़ा मिलनी चाहिए.
  • हैदराबाद में महिला डॉक्टर से गैंगरेप और हत्या के आरोपियों के एनकाउंटर को लेकर अलग-अलग राय सामने आ रही हैं. एक बड़ा वर्ग जहां इस मसले पर हैदराबाद पुलिस की तारीफ कर रहा है तो कुछ लोगों ने इस एनकाउंटर पर सवाल भी खड़े किए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here