महाराष्ट्र में एक स्वयंभू बाबा की सलाह पर एक पति ने अपनी पत्नी को करीब 50 दिन तक कथित रूप से बहुत कम मात्रा में खाना दे कर रखा. एक स्वयंभू बाबा ने महिला के पति और ससुराल वालों से कहा कि अगर वह भूखे रहे और कुछ अनुष्ठान करे तो उन्हें ‘गुप्त खज़ाना’ मिल सकता है. पुलिस ने महिला के पति और स्वयं भू बाबा को गिरफ्तार कर लिया है.

मामला चंद्रपुर जिले के शेगांव थाने का है. एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि महिला ने अगस्त 2018 में शादी की थी. उन्होंने बताया कि शादी के पहले दिन से ही महिला को प्रताड़ित करना शुरू कर दिया और उसे एक कछुए सहित विभिन्न चीजों को लेकर अनुष्ठान और अन्य चीज़े करने के लिए मजबूर किया गया.

अधिकारी ने बताया कि उसे शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया और 50 दिनों तक बहुत कम मात्रा में खाना दिया गया. उन्होंने बताया कि उस दौरान वह महिला से रोज़ाना सुबह पौने तीन बजे पूजा कराते थे और इस दौरान कोई गलती करने पर उसे पीटते भी थे.

अधिकारी ने बताया कि उसके पिता को संदेह हुआ तो वह उसके घर गए और वह उसकी दयनीय हालत देखकर स्तब्ध रह गए. इसके बाद वह महिला को अपने साथ घर ले गए जहां उसने अपनी आप बीती सुनाई.

घटना की जानकारी मिलने पर महाराष्ट्र अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति ने पुलिस से संपर्क किया और महिला के पति, ससुराल वालों और अन्य के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. इसके बाद पुलिस ने संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया.